समर्थक

मंगलवार, 25 जून 2013

भारतीय सेना को हार्दिक धन्यवाद !


992863_139933162869988_1879857356_n
उत्तराखंड प्रलय के वक्त हमारी सेना ने अदम्य साहस का परिचय देकर हजारों श्रद्धालुओं को सुरक्षित उनके घर रवाना किया है . 

भारतीय सेना को सभी देशवासियों की ओर से हार्दिक धन्यवाद !



तूफानों  को थमना सिखा दें ,
हम ज़लज़लों का दिल दहला दें ,
हम भारत माँ के बेटे तब तक दम ना लेते ,
जब तक चुनौती का सिर ना  झुका  दें !



2


मुसीबत जो टकराए हम से हो जाती टुकड़े टुकड़े ,
फौलादी अपने इरादे कभी भी नरम न पड़ें ,
आँखें उठाकर जो देंखें अम्बर धरा से मिला दें !
हम भारत माँ के बेटे तब तक दम ना लेते ,


जब तक चुनौती का सिर ना  झुका  दें !


1


सारा वतन अपना घर है ये धरती हमारी माता ,
मज़हब हमारा तिरंगा गगन पर रहे फहराता ,
हमें जान की नहीं परवाह वतन पर हँसकर लुटा दें !

हम भारत माँ के बेटे तब तक दम ना लेते ,


जब तक चुनौती का सिर ना  झुका  दें !


4

नहीं हम नहीं हैं मसीहा ,नहीं हम नहीं हैं फ़रिश्ते !
हम फ़र्ज़ वो ही निभाते जिसकी शपथ हम हैं लेते !
उफनते हुए दरिया पर पुल हम मिलकर बना दें !
हम भारत माँ के बेटे तब तक दम ना लेते ,


जब तक चुनौती का सिर ना  झुका  दें !

शिखा कौशिक 'नूतन' 

3 टिप्‍पणियां:

सरिता भाटिया ने कहा…

नमस्कार
आपकी यह रचना कल बुधवार (26-06-2013) को ब्लॉग प्रसारण पर लिंक की गई है कृपया पधार कर अपनी प्रतिक्रिया अवश्य रखें |
सादर
सरिता भाटिया

Shalini Kaushik ने कहा…

prabhavshali prerak abhivyakti .badhai

Shalini Rastogi ने कहा…

शिखा जी .. भारत के नौजवानों के लिए सच्ची सलामी पेश करती है आपकी यह रचना !