समर्थक

बुधवार, 15 अगस्त 2012

HAPPY INDEPENDENCE DAY !



भारत माता की जय !




छिप कर क्यों आता है कायर ?
आगे से आकर दिखा !
हम हैं वतन के प्रहरी 
आँखें मिलकर दिखा !
तेरी हर साजिश को हम नाकाम कर देंगे 
ओ दुश्मन तेरा काम हम तमाम कर देंगे !

पीछे से करता क्यों वार है ?
आगे से आकर दिखा !
है बहादुर तू अगर 
मुंह न ऐसे छिपा ;
तेरी हर साजिश को हम नाकाम कर देंगे
  ओ दुश्मन तेरा क़त्ल खुलेआम कर देंगे !
तेरी हर ...........

छिपकर चलाता क्यों गोली ?
आगे से आकर चला ;
हम हैं खड़े सीना ताने 
हमको मिटाकर दिखा 
तेरी हर साजिश को हम नाकाम कर देंगे 
हंसकर अपने प्राणों का बलिदान कर देंगे !
छिपकर क्यों आता है ...........                                                
जय हिंद !                                     
शिखा कौशिक                 
               [विख्यात ]

5 टिप्‍पणियां:

Rajesh Kumari ने कहा…

वाह बहुत ओजपूर्ण रचना शक्ति का आह्वान करती हुई हिम्मत है तो सामने से वार करके बता ...वाह

शिखा कौशिक ने कहा…

dhnyvad rajesh ji .

Rajesh Kumari ने कहा…

शिखा कौशिक जी हार्दिक आभार आपको आपने मुझे यह अवसर प्रदान किया मेरी तहे दिल से कोशिश रहेगी कि मैं आप सभी कि अपेक्षाओं पर खरी उतर सकूँ धन्यवाद

शिखा कौशिक ने कहा…

my pleasure .

शिखा कौशिक ने कहा…

my pleasure .