समर्थक

बुधवार, 25 फ़रवरी 2015

''मुबारकबाद देते हैं !''


Image result for free images of flower with knife
हमारी जीत को जो हार बना मात देते हैं !
वही हंसकर गले मिलकर मुबारकबाद देते हैं !
.................................................................
बड़े हमदर्द बनकर दे रहे गम में जो तसल्ली ,
वही तो साज़िशें रच क़त्ल को अंजाम देते हैं !
................................................................
मेरी बदनामियों पर हो खफा दुनिया से भिड़ जाते ,
मुझे बदनाम कर ये इस हुनर से काम लेते हैं !
....................................................................
नहीं हममें अक़्ल जो जान लें वे दोस्त या दुश्मन ,
मगर हम बेअक़्ल  शातिर सभी पहचान लेते हैं !
.................................................................
बड़े मासूम हैं ; नादान हैं ; क्या कहें 'नूतन '
जो हमको क़त्ल कर कातिल का हमें नाम देते हैं !

शिखा कौशिक 'नूतन'

2 टिप्‍पणियां:

Shalini Kaushik ने कहा…

bahut khoob .vaah vaah

Compaddicts Infotech ने कहा…

use our Author social networking website,make a Free Registration, Free Publish Ebooks, and start selling ebooks,:http://www.onlinegatha.com/