समर्थक

शनिवार, 7 सितंबर 2013

ये हिन्दू मुस्लिम मत कर ढीला भेजा कसवा ले !

ये हिन्दू मुस्लिम मत  कर  ढीला   भेजा  कसवा  ले


[मुजफ्फरनगर में सांप्रदायिक हिंसा, 4 मरे

मुजफ्फरनगर के कवाल गांव में दो समुदायों के बीच हुई गोलीबारी में चार लोगों की मौत हो गई। पुलिस ने इलाके के तीन थानों में कर्फ्यू लगा दिया है।]






अरे दिल तेरा  मैला  है जरा  अच्छे  से  मंजवा  ले ,
ये हिन्दू मुस्लिम मत  कर  ढीला   भेजा  कसवा  ले ,
हम  तो हिंदुस्तानी  हैं  है अपना  धर्म  तिरंगा  ,
आ  गले  ईद  पर  मिल  ले दीवाली  साथ  मना  ले !
*******************************

हमको मंदिर प्यारे हैं हमको मस्जिद है प्यारी ,
अमन मुल्क में रखने की अपनी जिम्मेदारी  ,
श्री राम भक्त है हम ही हम ही अल्लाह के बन्दे ,
अलगाव आग की ठंडी कर देंगें हर चिंगारी ,
यूँ ज़हर न घोलो फिजां में अरे मत हमसे पंगा ले !
ये हिन्दू मुस्लिम मत  कर  ढीला   भेजा  कसवा  ले
*************************

रमजान  हो  या  हो  सावन  दोनों हैं पाक महीने ,
सलमा हो  या  हो  सीता दोनों हैं अपनी बहाने  ,
एक राम राम करता है और दूजा करे सलाम ,
गंगा-जमुना तहजीब है इसके क्या हैं कहने !
है एक खून हम सबका आ आज चैक करवा ले !
ये हिन्दू मुस्लिम मत  कर  ढीला   भेजा  कसवा  ले
*************************************

मज़हब की दीवारों में चिनवाओ मत तुम खुद को ,
ये हिंदुस्तान सभी का समझाए आओ सभी को ,
नादाँ कट्टर बनकर न घर अपना आप जलाओ ,
दुश्मन हैं बहुत हमारे मत देना मौका इनको !
क्या कर लेगा पडोसी जब एक हो सब घरवाले !
ये हिन्दू मुस्लिम मत  कर  ढीला   भेजा  कसवा  ले !

शिखा कौशिक 'नूतन '

2 टिप्‍पणियां:

Shalini Kaushik ने कहा…

samyik roop se sahi v upyogi prastuti .

Devdutta Prasoon ने कहा…

अच्छी प्रेरणाप्रद प्रस्तुति है !