समर्थक

गुरुवार, 18 अप्रैल 2013

वो एम्.एल.ए. हो गया !!!-लघु कथा

वो एम्.एल.ए. हो गया !!!-लघु कथा


फेसबुक पर अपने मित्र  का फोटो पहचान कर गुप्ता जी गदगद हो गए .फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज दी मित्तल जी को  . मित्तल  जी भी अपने दोस्त को पहचान गए और फ्रेंड रिक्वेस्ट कन्फर्म कर दी .और फिर  शुरू  हुआ चैट का सिलसिला .गुप्ता जी ने पूछा -'...और मित्तल वहीँ गाँव में हो या कहीं और ?..मित्तल ने बताया -'' ..अरे यार मैं तो गाँव में ही हूँ पर तू तो कनाडा जाकर हमें भूल ही गया और घर-परिवार ठीक तो है ....सत्रह  साल हो गए तुझे गए ...दुनिया ही बदल गयी .अब तो गाँव भी हाईटेक हो गए हैं ससुरे .'' ..मित्तल की इस बात पर ठहाका लगाते हुए गुप्ता जी ने चैट में लिखा -''...हाँ यार... मैं सपरिवार मौज से हूँ यहाँ ..तू बता तेरे दोनों लड़के क्या कर रहें हैं अब ?बड़ा वाला तो बहुत होशियार था पढ़ाई में ..और वो छोटा ..आवारा ...बदमाश !'गुप्ता जी के प्रश्न पर मित्तल ने उत्तर लिखा -'' गुप्ता बड़े वाले ने परचून की दूकान कर रखी है .एम्.ए.बी.एड. तक पढ़ा पर सरकारी नौकरी के लिए रिश्वत के पैसे कहाँ से लाता ?....और वो छोटा ...वो मज़े से है ..वो एम्.एल.ए. हो गया !!!'

शिखा कौशिक 'नूतन'

7 टिप्‍पणियां:

शालिनी कौशिक ने कहा…

sahi hai aajkal nalayak hi layak ho rahe hain ye dhandha aajkal khoob chal nikla hai .रोचक प्रस्तुति जबरदस्त कटाक्ष आभार नवसंवत्सर की बहुत बहुत शुभकामनायें कौन मजबूत? कौन कमजोर ? .महिला ब्लोगर्स के लिए एक नयी सौगात आज ही जुड़ें WOMAN ABOUT MANजाने संविधान में कैसे है संपत्ति का अधिकार-1

Ranjana Verma ने कहा…

सार्थक कथा...

Ranjana Verma ने कहा…

सार्थक कथा...

Ranjana Verma ने कहा…

सार्थक कथा...

Pratibha Verma ने कहा…

बेहतरीन प्रस्तुति!!
पधारें बेटियाँ ...

Anita ने कहा…

वाह !

Dr. Sarika Mukesh ने कहा…

कठोर व्यंग्यात्मक प्रस्तुति!